कारगिल विजय दिवस पर रेडक्रॉस, सीआरपीएफ के जवानों के साथ एक पेड़ शहीद के नाम” पौधारोपण किया गया

फरीदाबाद, 26 जुलाई। सोमवार फरीदाबाद के एस जी एम नगर एफ ब्लॉक में रेडक्रास सोसायटी फरीदाबाद के तत्वावधान में सीआपीएफ एवं अखिल भारतीय ब्रह्मर्षि समाज के सहयोग से कारगिल के शहीदों की याद में एक पौधारोपण समारोह आयोजित किया गया।इस अवसर भूतपूर्व सैनिक, सीआरपीएफ बटालियन, अखिल भारतीय ब्रह्मर्षि समाज के सदस्यों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया और छायादार पौधे लगाये। समारोह का शुभारंभ शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ हुआ अखिल भारतीय ब्रह्मर्षि समाज के सदस्यों ने अंग वस्त्र भेंट कर सीआरपीएफ के जवानों का सम्मान किया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर पर पधारे जिला रेडक्रॉस सचिव विकास कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि हरियाणा सरकार,”एक पेड़ शहीद के नाम” नामक मुहीम चला रही है इसकी शुरुआत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपने आवास पर एक पेड़ लगाकर की और रेडक्रास इस मुहीम को गांव -गांव लेकर जा रही है इसमें स्थानीय निवासियों का भरपूर सहयोग मिल रहा है अधिक से अधिक फलदार वृक्ष लोग अपने घरों के आसपास लगा रहे हैं रेडक्रास सोसायटी के कार्डिनेटर विमल खंडेलवाल ने कहा कि कारगिल विजय दिवस पर मैं अपने शहीदों को कोटि कोटि नमन करते हुये ये आवाहन करता हूं कि हम सभी लोग पेड़ लगाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करें जिससे ये धरा भरी हो जाये। उन्होंने इस अवसर पर अखिल भारतीय ब्रह्मर्षि समाज का इस आयोजन के लिए धन्यवाद भी किया।

सीआरपीएफ बटालियन के आफिसर ए एस आई ज्ञानेंद्र सिंह और एएसआई देशराज ने कहा कि अपने कमांडेंट के आदेश अनुसार हमने ये पौधारोपण किया जिससे भारत माता की सेवा हो सके। अखिल भारतीय ब्रह्मर्षि समाज के प्रदेश अध्यक्ष प्रेमचंद गौड़ ने कहा कि हमारा संगठन समय समय पर ऐसे आयोजन करता रहता है और इस पौधारोपण अभियान के सफल आयोजन के लिये रेडक्रास सोसायटी एवं सीआरपीएफ के जवान बधाई के पात्र हैं। संगठन के कोषाध्यक्ष एवं कानूनी सलाहकार एडवोकेट कुणाल कांत शर्मा ने कहा कि रेडक्रास सोसायटी एवं सीआरपीएफ ने जो हमारे संगठन का सहयोग किया उसके लिए उनका बहुत बहुत धन्यवाद। प्रसिद्ध उद्योगपति एससी कौशिक ने अपने विचार व्यक्त करते हुये कहा कि पौधारोपण अभियान से बढ़कर कोई पुनीत कार्य नहीं है इससे ना सिर्फ आज की पीढ़ी अपितु आने वाली पीढ़ियों को भी लाभ मिलेगा। पीयूष कौशिक का कहना था कि ऐसे अभियानों में युवा वर्ग कोभी शामिल किया जाना चाहिए । स्कूल कालेज में ऐसे अभियानों को चलाया जाना चाहिए।इस अवसर पर पंडित आर डी व्यास, भूतपूर्व सैनिक प्रेमसिंह सैनी,सुरेश शर्मा और भी बहुत से गणमान्यजन उपस्थित रहे। समारोह का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।