दिल्ली में लगातार दूसरे दिन कोरोना के 946 मामले, 78 मरीज़ों की मौत दिल्ली में लगातार दूसरे दिन कोरोना के हज़ार से कम मामले, 78 मरीज़ों की मौत | जानें पिछले 10 दिन में कैसे घटे केस

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लगातार दूसरे दिन कोरोना संक्रमण के नए मामले 1 हज़ार से कम आए हैं. पिछले 24 घंटों के दौरान संक्रमण के 946 मामलों की पुष्टि हुई है. इतने ही वक्त में दिल्ली में 78 मरीज़ों की मौत हो गई है. इसके अलावा आज दिल्ली में संक्रमण की दर 1.25 फीसदी पर आ गई है.

आपको बता दें कि शनिवार को दिल्ली में 956 नए कोरोना के केस सामने आए थे और 122 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 2380 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक भी हुए थे.

दिल्ली में पिछले 24 घंटों के दौरान 1803 कोरोना के मरीज़ ठीक हुए हैं. इन नए मामलों के बाद अब शहर में कुल कोरोना केस 14,25,592 हो गए हैं. फिलहाल 12,100 कोरोना के एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज किया जा रहा है.

 

पिछले 10 दिनों में कैसे घटे केस, देखें आंकड़ों में

  • शनिवार को 956 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 122 मरीजों की मौत हुई थी.
  • शुक्रवार को 1141 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 139 मरीजों की मौत हुई थी.
  • गुरुवार को 1072 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 117 मरीजों की मौत हुई थी.
  • बुधवार को 1491 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 130 मरीजों की मौत हुई थी.
  • मंगलवार को 1568 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 156 मरीजों की मौत हुई थी.
  • सोमवार को 1550 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 207 मरीजों की मौत हुई थी.
  • रविवार को 1649 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और  189 मरीजों की मौत हुई थी.
  • शनिवार को 2260 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 182 मरीजों की मौत हुई थी.
  • शुक्रवार को 3009 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 252 मरीजों की मौत हुई थी.
  • गुरुवार को 3846 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे और 235 मरीजों की मौत हुई थी.

आपको बता दें कि 31 मई से दिल्ली में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की जा रही है. सीएम केजरीवाल ने हाल ही में इसकी घोषणा की है. करीब एक महीने से ज्यादा लंबे वक्त से दिल्ली में लॉकडाउन लागू है, जिसे अब सात जून तक बढ़ा दिया गया है. हालांकि 31 मई से दिल्ली में अनलॉक की प्रक्रिया के तहत कुछ राहत दी जा रही है.

अनलॉक में इन्हें मिली काम करने की इजाजत-
1) स्वीकृत इंडस्ट्रियल एरिया में बंद परिसर में मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन यूनिट चलाई जा सकेगी
2) जिन कंस्ट्रक्शन साइट पर वर्कर्स बाउंड्री के अंदर काम कर रहे हैं वहां निर्माण कार्य की अनुमति होगी

क्या होंगी शर्तें-

  • थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना अनिवार्य होगा
  • वर्क आवर्स अलग-अलग शिफ्ट में होंगे ताकि एक समय पर ज्यादा भीड़ न हो
  • डीएम के द्वारा रैंडम RT-PCR और रैपिड टेस्ट कराए जाएंगे
  • सभी लेबर्स और वर्कर को कोविड अपप्रोप्रियेट बिहेवियर जैसे मास्क लगाना सोशल डिस्टेंसिंग बरतना अनिवार्य होगा. डीएम के अधीन स्पेशल टीम बनाई जाएंगी जो समय समय पर निरीक्षण करेंगी.
  • वर्कर्स को e-पास के जरिए पब्लिक और प्राइवेट व्हीकल से मूवमेंट की इजाजत होगी.
  • थोक में e-पास बनाने का प्रावधान किया जाएगा. जिसके तहत फैक्टरी मालिक अपने वर्कर्स की डिटेल के साथ ऑनलाइन पोर्टल पर e-पास के लिए आवेदन कर सकेंगे.
  • नियम उल्लंघन करने पर मैनुफैक्चरिंग यूनिट या कंस्ट्रक्शन साइट को बन्द भी किया जा सकता है और DDMA एक्ट के तहत कार्रवाई भी की जाएगी.

आगे अनलॉक की प्रक्रिया पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हर हफ्ते हम जनता के सुझावों के आधार पर और एक्सपर्ट के विचारों के आधार पर धीरे-धीरे लॉकडाउन खोलने की प्रक्रिया जारी रखेंगे. लेकिन ये ध्यान रखना होगा कि कोरोना फिर से ना बढ़ने लगे. अगर मामले फिर से बढ़ने लगे तो हमको इस प्रक्रिया को रोकना होगा.